Jatta Ve by Mankirt Aulakh Song Lyrics

Jatta Ve by Mankirt Aulakh - Mankirt Aulakh Lyrics


Singer Mankirt Aulakh
Music RB Khera
Song Writer Happy Dala
बहने जे बनुना रिहना द्वार जान दे

तैं पातु नाहयो जति तेरी कीं करोति

हो वलियन दे वली तेरी तोर देख के

पिंड दी मंडेर साड़ी गैलन करदी



एह जो काजी न शायर ऐविन बैड डैलर है

आके कांपदे तू सरायण दे शक्क जट्ट वे



हो जे तु बाँके परुना कदों पिंड सदे औना

कदोन मपयण से मगु मते हह जत्त व

बांके पराहुना कदोन पिंड सदे औना

कदोन मपयण से मगु मते हह जत्त व



पंज वीर मेरे दादा जेलदार हुन्देया

दिन्दे आ मात्र में जान वार मुंडिये

लड्डन नाल पली वे मुख्य घी मपेयण दी

सब कुज बिठि तातें हर मुंदिये

लड्डन नाल पली वे मुख्य घी मपेयण दी

सब कुज बिठि तातें हर मुंदिये



जे कोय होरी तेरी होई मैथन बूरा नहियो कोय

हुन एना तान जटुंगी मुख्य हक्क जट्ट वी



वे तु बांके परुणा कदों पिंड सदे औना

कदोन मपयण से मगु मते हह जत्त व



बांके पराहुना कदोन पिंड सदे औना

कदों मपयण से मनुग मरै हाथ जट्ट वी x (2)



वे मुख्य सूर्या कनाडा डी स्टार वज्जदे

एंटी डग हुनि जेहदे तेरे यार वज्जदे

इंतजार करो तेरी सरे आले बरेलोस ते

दले आ बइठि नू शमी चर वज्ज गे







अब और इंतजार नहीं किया जा सकता

आके लाई गया जी होर

Pher laanat'an payenga

मेनु लाख जट्ट वी



वे तु बांके परुणा कदों पिंड सदे औना

कदोन मपयण से मगु मते हह जत्त व

बांके पराहुना कदोन पिंड सदे औना

कदन मपनयण से मनगु मीरा ।।



बांके पराहुना कदोन पिंड सदे औना

कदों मपयण से मनुग मरै हाथ जट्ट वी x (2)



बांके परौना

मनुज को मेरा हठ जट्ट वी

बांके पराहुना पिंड सदे औना

मपनय से मनगु मीरा



बहने जे बनुना रिहना द्वार जान दे

द्वार जान दे, द्वार जान दे

तैं पातु नाहयो जति तेरी कीं करोति

किन्ना कार्डी, किन्ना कार्डी

Post a comment

0 Comments