NAAGMANI Song Lyrics

NAAGMANI | KHAN BHAINI | Gurlej Akhtar | Latest Punjabi Songs 2019 - Khan Bhaini Lyrics


Singer Khan Bhaini
Music Laddi Gill
Song Writer Khan Bhaini
हो नागमणि वांगु राखी सांभ के जवानी

वे बीह जय नइ कर सकु न कोइ जानि

डांग मारडी ते टिकट पड दी

डांग मारडी ते टिकट पड दी



वे डांग मारडी ते टिकट पाड दी

मुख्य छद द न कछ मुंडेया

कच मुंडेया



चंडीगढ़ दी नागिन फेरे छेड़े दा

वे बच बाच बच मुंडेया

हो चण्डीगढ़ दी नागिन फेरे छेड़े दा

वे बच बाच बच मुंडेया



हो बिलो जान'द तू गैल करन कीहदन

नी मुख्य तेरे जेहिँ कीलियँ बटेरियन

हो बिलो जान'द तू गैल करन कीहदन

नी मुख्य तेरे जेहिँ कीलियँ बटेरियन



हो रखन दबब विच 32 बोर दी

राखन दबब विच 32 बोर दी

नी दुक्की टिक्की कीठ की अरड़ी



हो बिलो जट्ट वि सपेरा संगरूर दा

तू नागिन जे चंडीगढ दी

हो बिलो जट्ट वि सपेरा संगरूर दा

तू नागिन जे चंडीगढ दी

हो बिलो जट्ट वि सपेरा संगरूर दा

तू नागिन जे चंडीगढ दी



आ हन्दे चारचे जत्ती दे उगे वाल

करे केहि संगरूर दि तू गल वे

हाले लभेया नी नासा कोलों मुंडेया

मेरे नखरे दे ज़हर दा कोई हल वल



रख देखभाल तू कहि न मुनु फेर वी

दसेसे नी साच मुंडेया



हो चण्डीगढ़ दी नागिन फेरे छेड़े दा

वे बाख बाख बच मुंडेया

ओये चंडीगढ दी नागिन फेरे छेड़े दा

वे बाख बाख बच मुंडेया



हो अइवैं छद न राकेँ बहुते जोड़ी नी

सड्डा वज्जद शिकरियाण दा शेहर नी

हो पाइ जौ पेग च मिल के मुंडा बलिये

आहा नखरे तेरे दा जेहदा ज़हर नी



हो आपन रीझण ला ला भोर देण बलाय

जिते वि गरारी अरहदी



हो बिलो जट्ट वि सपेरा संगरूर दा

तू नागिन जे चंडीगढ दी

हो बिलो जट्ट वि सपेरा संगरूर दा

तू नागिन जे चंडीगढ दी

हो बिलो जट्ट वि सपेरा संगरूर दा

तू नागिन जे चंडीगढ दी



तू जट्ट छड़ दे जवकन वली हिन्द वी

सब जानिअँ पितरियन न खिन्द वी

ओहि केते संभेंग्या जट्टी डे रवैया नू

हो बेडे तेरे जेह मोड्यान मुख्य पिंड वी



हो गट्ट मारडी फुकरे फोर्ड वानरंग

जो छडी दा क्लच मुंडेया



होये चंडीगढ दी नागिन फेरे छेड़े दा

वे बाख बाख बच मुंडेया

ओये चंडीगढ दी नागिन फेरे छेड़े दा

वे बच बाच बच मुंडेया



हो चण्डीगढ़ चून निकल कूदे बहार नी

खान भईला आ खोज दे मारी नी

हुंडी भणी आiniा भैं आiा बलायी

पिंडों राखी आ मिआकि तक मार नी



ओ जट चढ दा दिमग नू आ जत्तीये

जो लावै नू शरब चढी



हो बिलो जट सपेरा संगरूर दा

तू नागिन जे चंडीगढ दी

हो बिलो जट्ट वि सपेरा संगरूर दा

तू नागिन जे चंडीगढ दी

हो बिलो जट्ट वि सपेरा संगरूर दा

तू नागिन जे चंडीगढ दी।

Post a comment

0 Comments