Sahibzade : Mankirt Aulakh Song Lyrics

Sahibzade : Mankirt Aulakh Song Lyrics - Mankirt Aulakh Lyrics


Singer Mankirt Aulakh
Music Jassi X
Song Writer Kahlon
बाज़न वाले दले दुलारे

वर देत ओहने चारे

(वर दित्ते ओहने चारे)



बाज़ वेली डे डुलारे

वर देत ओहने चारे



वेखने आ साहिबज़ादे

धा दे पपी कंध तू



चुम्मा मेन माथा जा के

गुरु जी दे ललन दा

बेबे कीहन्दी लै जात पुट

मुिनु सरहिंद तू



चुम्मा मेन माथा जा के

गुरु जी दे ललन दा

बेबे कीहन्दी लै जात पुट

मुिनु सरहिंद तू

मुिनु सरहिंद तू

(मुनु सरहिंद तु)



ददि दे .. पोटे निक्के-निक्के

चिन्नते .. नेहं दे विच जिते



ओएस धरत द बुक्कल दे विच बेहना वी पुत्तर

थांडे .. बुर्ज नू अखीं भरके

एहि केहन वी पुत्तर

की तेनु .. तरस कयोन ना आया



सदे छोते-छोते बालन नू ।।

तू कहदे तेरे नाल लुकाया ।।



लैंगर जे लउना कहलोन

पगगन ऊँठ वंद तू ।।



चुम्मा मेन माथा जा के

गुरु जी दे ललन दा

बेबे कीहन्दी लै जात पुट

मुिनु सरहिंद तू



चुम्मा मेन माथा जा के

गुरु जी दे ललन दा

बेबे कीहन्दी लै जात पुट

मुिनु सरहिंद तू

मुिनु सरहिंद तू



चुम्मा मेन माथा जा के

(चुम्ना मुख्य माथा जा के)



धौ डायन रातन कीन्हा

थार दयान हद्दन नू

आये साले बालन

विछोडे दीयाँ आगन नु

विछोडे दीयाँ आगन नु



दै दैत जाण नैयो

पीता दशमेश जी दा

हाथी जेहदे वाड गये ने

आपनियाँ रागन नू

आपनियाँ रागन नू



कम्बनी छिडुगी थांदे बुर्ज चों लंघ तु



चुम्मा मेन माथा जा के

गुरु जी दे ललन दा

बेबे कीहन्दी लै जात पुट

मुिनु सरहिंद तू



चुम्मा मेन माथा जा के

गुरु जी दे ललन दा

बेबे कीहन्दी लै जात पुट

मुिनु सरहिंद तू

मुिनु सरहिंद तू



चुम्मा मेन माथा जा के

(चुम्ना मुख्य माथा जा के)

Post a comment

0 Comments